Saturday, December 7, 2019 2:16 AM
Breaking News

मोगा में कार सवारों ने पैदल जा रही महिला का अपहरण

मोगा। जिले के गांव घल्लकलां में पैदल जा रही 25 साल की महिला का कार सवार दो महिलाओं और एक पुरुष ने अपहरण कर लिया। महिला अपनी बहन के घर से लौट रही थी और ऑटो न मिलने के कारण पैदल जा रही थी। इसी दौरान एक कार में जा रही दो महिलाओं व एक पुुरुष ने कार में खींच लिया। इसके बाद वे उसे संगरूर जिले के धूरी थाना क्षेत्र के एक गांव में ले गए। वहां कई लोगों ने रात भर महिला के साथ गैंगरेप किया। बाद में बदमाशों के चंगुल में फंसी एक अन्‍य युवती ने सोमवर सुबह तड़के पांच बजे महिला को वहां से भगा दिया।

संगरूर जिले के धूरी नामक स्थान से किसी तरह बचकर निकली महिला

जानकारी के अनुसार, मोगा शहर में कोटकपूरा चुंगी के निकट की रहने वाली 25 साल की एक महिला मोगा शहर के थाना सदर क्षेत्र के अंतर्गत गांव घल्लकलां में रविवार को अपनी बहन के यहां गई थी। रविवार को गांव से हाईवे तक ऑटो कम चलते हैं। काफी देर इंतजार के बाद महिला को ऑटो नहीं मिला तो वह पैदल ही चल पड़ी। रास्ते में एक सफेद रंग की कार में सवार दो महिलाएं व एक पुरुष आपस में बात कर रहे थे। जैसे ही महिला कार के करीब पहुंची तो तीनों लोगों ने झटके से महिला को कार के अंदर खींच लिया।

पीड़ित महिला ने बताया कि कार में खींचने के साथ ही उसे जबरन एक इंजेक्शन लगा दिया। इसके बाद उसे होश नहीं आया। रात को करीब आठ बजे के करीब थोड़ा होश आया तो उसने मौका पाकर अपने पति को फोन करके बताया कि कुछ लोग उसे कार में लेकर आए हैं, यहां पर बड़ी बड़ी सड़कें दिख रही हैं, इससे ज्यादा वह कुछ नहीं बता पाई। इसी बीच अपहर्ताओं ने महिला से फोन छीन लिया, उसके बाद उसका कोई पता नहीं चल सका।

पीड़ित महिला के पति ने बताया कि बाद में उसने काफी फोन मिलाया, लेकिन कॉल नहीं मिला। इसके बाद वह पुलिस को शिकायत देने पहुंचे। वह रात भर वह कभी थाना सिटी-1 जाता रहा तो कभी थाना सिटी-2 लेकिन पुलिस ने किसी प्रकार की मदद नहीं की। उसने आरोप लगाया कि इस दौरान थाना साउथ सिटी पुलिस के इंस्पेक्टर ने मदद करने की बजाय उसे धमकी देकर भगा दिया। इसके बाद भी वह रात भर में पत्‍नी की खोज करता रहा।

पति ने बताया कि सुबह सोमवार सुबह लगभग आठ बजे लुधियाना बस स्टैंड के सुरक्षा गार्ड का फोन आया कि उसकी पत्‍नी नशे की हालत में है, उसके कपड़े फटे हुए हैं। उसके बाद पीड़ित का पति परिजनों के साथ मोगा पहुंचा वहां से पत्‍नी को लाकर मथुरादास सिविल अस्पताल में भर्ती करा दिया। दोपहर लगभग तीन बजे थाना संगरूर के थाना धूरी पुलिस के सब इंस्पेक्टर मक्खन सिंह, सब इंस्पेक्टर खलील खान व महिला कांस्टेबल दलजीत कौर महिला के बयान शाम को साढ़े तीन बजे पहुंचे।

एक बाइक सवार की मदद से महिला लुधियाना बस स्टैंड पहुंची, जहां से उसका पति महिला को मोगा लेकर आया, उसे मथुरादास सिविल अस्पताल में भर्ती कराया गया है। इस पूरे मामले में मोगा पुलिस का बेहद असंवेदनशील रवैया सामने आया है। धूरी पुलिस मोगा पीड़ित के बयान दर्ज करने पहुंच गई, लेकिन मोगा में हुए अपहरण के बावजूद मोगा पुलिस पीड़ित के बयान लेने तक नहीं पहुंची।

Check Also

महिला को पति के पड़ोसन से अवैध संबंध का था शक

पटियाला। एक महिला को शक था कि उसके पति का पड़ोसन से अवैध संबंध है। ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *