Monday, December 16, 2019 1:12 PM
Breaking News

दून की जनता से किए कुछ वादे पूरे, कुछ अधूरे

शहर के लोगों के साथ कई वादों और दावों के साथ एक साल पहले नगर निगम का नया बोर्ड गठित हुआ था। उस समय मेयर सुनील उनियाल गामा ने जनता के साथ जो वादे किए थे उसमें से कुछ तो पूरे हो गए हैं और कुछ पर अभी काम करना बाकी है।  बस्तियों में हाउस टैक्स लगाने के अपने प्रमुख वादे को पूरा करने में गामा सफल रहे हैं।  हाउस टैक्स ऑनलाइन हो गया है और जनता की सुविधा के लिए नगर निगम के तीन नए जोनल आफिस खुल गए हैं। हालांकि नगर निगम के नए वार्डों में घर-घर से कूड़ा उठान शुरू करवाना, यहां सड़क, नाली और ड्रेनेज के काम करवाना, कर्मचारियों की संख्या बढ़ाने और पार्षदों को मानदेय दिलवाने जैसे वादों पर अभी काम किया जाना है।

एक साल के कार्यकाल में ये काम हुए
गांधी पार्क में ओपन जिम 

फिट इंडिया अभियान के तहत गांधी पार्क में ओपन जिम बनाया गया है। इसका लोकार्पण हाल ही में  मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने किया था। इस ओपन जिम में कसरत करना निशुल्क है।

स्मार्ट वेंडिंग जोन
छह नंबर पुलिया में शहर का पहला वेंडिंग जोन बनाया गया। यहां पर पहले अवैध रूप से ठेली का संचालन कर रहे लोगों को किराए के दायरे में  लाकर वैध किया गया। यातायात के लिहाज से इस वेंडिंग जोन को बनाया गया।

बस्तियों पर टैक्स लगाया
सालों से बस्तियों पर टैक्स लगाने की चली आ रही मांग को मेयर गामा ने पूरा किया। टैक्स की सुविधा भी ऑनलाइन दी गई।

गांधी पार्क में वॉकिंग ट्रैक
गांधी पार्क में टहलने वालों के लिए नया वॉकिंग ट्रैक बनाया गया। इस ट्रैक के बनने के बाद से तमाम लोग इसी पर पैदल चलते हैं।

शहर में बनाई गई 50 किलोमीटर लंबी मानव शृंखला
पॉलीथिन के खिलाफ जागरूकता के लिए मुहिम चलाई। कपड़े के बैग बांटे गए। पॉलीथिन के प्रति जागरूकता के लिए शहर में पहली बार 50 किलोमीटर लंबी मानव शृंखला बनाई गई। नगर निगम की ओर से चलाया गया यह अभियान बहुत चर्चा में रहा और लोगों ने इसे सराहा भी।

यह वायदे पूरे हुए

  • हाउस टैक्स आनलाइन करना
  • बस्तियों पर हाउस टैक्स लगाना
  • बोर्ड के वित्तीय अधिकार बढ़ाना
  • निगम के तीन नए जोनल आफिस बनाना

यह वायदे पूरे नहीं हुए 

  • नगर निगम के नए वार्डों में घर-घर से कूड़ा उठान का काम शुरू करवाना
  • नए इलाकों में सड़क,
  • नाली और ड्रेनेज के काम करवाना
  • शहर में नए वेंडिंग जोन बनाना (एक वेंडिंग जोन बन गया है।)
  • कर्मचारियों की संख्या बढ़ाना
  • पार्षदों को मानदेय दिलवाना।
  • शहर के बड़े नालों का ड्रेनेज सिस्टम ठीक करना (अभी कई जगह काम किया है)
  • नए वार्डों में स्ट्रीट लाइटें लगवाना (अभी कुछ क्षेत्रों मं स्ट्रीट लाइटें लगाई गई हैं।)

नगर निगम में नामित नहीं हो पाए पार्षद
नगर निकायों में अभी तक पार्षद नामित नहीं किए गए हैं। सरकार के जरिए नगर निकायों में पार्षद नामित किए जाने थे। दून नगर निगम के बोर्ड में 12 पार्षद नामित होते आ रहे हैं। इस बार वार्ड 60 से बढ़कर 100 हो गए हैं।

जनता ने मेयर के रूप में सेवा का मौका दिया, इसके लिए आभारी हूं। एक साल के कार्यकाल में वादे पूरे करने की पूरी कोशिश की। कई काम हुए हैं, कई करने की प्रक्रिया चल रही है। सड़क, स्ट्रीट लाइट, सफाई आदि के लिए 25 करोड़ के काम धरातल पर उतारे जाएंगे।
सुनील उनियाल गामा, मेयर

मेयर के काम से अधिकतर कांग्रेस पार्षद भी संतुष्ट
देहरादून। दून में नगर निगम के एक साल के कार्यकाल में कितना काम हुआ और मेयर के काम को विपक्षी पार्षद किस तरह देखते हैं, इसे लेकर कांग्रेसी पार्षदों से बातचीत की तो अधिकतर कांग्रेस पार्षद मेयर के काम से संतुष्ट नजर आए। हालांकि कुछ कांग्रेसी पार्षदों ने ये भी कहा कि वे काम से कतई संतुष्ट नहीं हैं। उनका कहना है कि इस साल दून में डेंगू ने सारे रिकार्ड तोड़ डाले और यह कहीं न कहीं निगम की नाकामी की वजह से हुआ है।

मेयर का काम संतोषजनक है। नगर निगम बोर्ड ने कुछ काम ठीक किए हैं। हालांकि सफाई व्यवस्था में अभी काफी काम करने की जरूरत है। यह भी सच है कि सड़क नाली के टेंडर काफी पहले हो गए थे, लेकिन अभी तक काम शुरू नहीं हुए।
डा. विजेंद्र पॉल, पार्षद बकरालवाला

मेयर के काम से किसी भी तरह की शिकायत नहीं है। उनका शहर में किया जा रहा काम अच्छा है। लेकिन नगर निगम के स्टाफ का काम ठीक नहीं है। जिस कारण काम अटकते हैं।
कोमल वोहरा, पार्षद बल्लूपुर

मेयर काफी अच्छा काम कर रहे हैं। नगर निगम बोर्ड के गठन से अब तक हुए कामों से संतुष्ट हैं। वह सभी पार्षदों को साथ लेकर चल रहे हैं।
सुमित्रा ध्यानी, पार्षद यमुना कालोनी

मेयर का काम अच्छा है। उनसे किसी भी तरह की शिकायत नहीं है। मेयर भाजपा से लेकर कांग्रेस पार्षदों को साथ लेकर चल रहे हैं। उनके अंदर किसी भी तरह का भेदभाव नहीं है।
अमित भंडारी, पार्षद धर्मपुर

मेयर सुनील उनियाल गामा से किसी भी तरह की शिकायत नहीं है। उनका अभी तक का काम संतोषजनक रहा है। सफाई व्यवस्था ठीक रही है, लेकिन विकास कार्य की रफ्तार धीमी है।
रमेश कुमार मंगू, पार्षद टर्नर रोड

त्यागी और मानचंद बोले, मेयर का काम संतोषजनक नहीं
एमडीडीए कालोनी चंदर रोड वार्ड से कांग्रेस पार्षद प्रवेश त्यागी मेयर के काम से संतुष्ट नहीं हैं। उनके मुताबिक टेंडर काफी पहले लग गए थे और अब तक वार्डों में विकास कार्य नहीं हुए हैं। डेंगू की गिरफ्त में पूरा शहर रहा। वार्डों में सफाई कर्मचारियों की संख्या पर समानता नहीं है, जोकि दिक्कत का एक बड़ा कारण है। दूसरी तरफ मोथरोवाला वार्ड से कांग्रेस पार्षद मानचंद कहते हैं कि मेयर का काम संतोषजनक नहीं रहा है। नगर निगम बोर्ड से जो उम्मीद थी, उसके तहत काम नहीं हुआ है।

देहरादून में बिजली के 2800 पोल लगाने की तैयारी
बोर्ड के दूसरे कार्यकाल में नगर निगम ने शहर भर में 2800 स्ट्रीट लाइट के नए पोल व लाइट लगाने की तैयारी कर ली है।  इसके लिए टेंडर कर दिए हैं।  इसमें चार करोड़ रुपये का खर्चा आएगा। यह पोल वहां पर लगाए जाएंगे, जहां पर स्ट्रीट लाइट नहीं है। इसके साथ ही शहर में मेयर कोटे के काम शुरू होंगे।  मेयर कोटे के काम मोहित नगर, नकरौंदा, नथुवावाला, नत्थनपुर, ब्रह्मपुरी, रेसकोर्स, नवादा, हर्रावाला, बालावाला, बंजारावाला, डोभालवाला आदि इलाकों होंगे।

Check Also

जेल में मोबाइल मिलने के मामले आ रहे सामने

हरिद्वार। जेल में मोबाइल चलाने वाले कैदियों पर प्रभावी कार्रवाई नहीं हो रही है। उन्हें सिर्फ ...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *